23kk2क्राइस्टचर्च, 23 फरवरी. मोइन अली (128, 2 विकेट) के हरफनमौला खेल की बदौलत इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने हागले ओवल मैदान पर सोमवार को खेले गए अपने तीसरे मैच में स्कॉटलैंड को 119 रनों से हरा दिया. यह इस विश्व कप में लगातार दो हार के बाद इंग्लैंड की पहली जीत है. इंग्लैंड ने स्कॉटलैंड के सामने 304 रनों का लक्ष्य रखा था, जो इस गैर टेस्ट दर्जा प्राप्त टीम के लिए काफी बड़ा साबित हुआ. स्कॉटिश टीम 42.2 ओवरों में सभी विकेट गंवाकर 184 रन ही बना सकी. स्टीवन फिन ने इंग्लैंड के लिए सबसे अधिक तीन विकेट लिए जबकि जेम्स एंडरसन, मोइन और क्रिस वोक्स को दो-दो सफलता मिली. मोइन को मैन ऑफ द मैच चुना गया.

स्कॉटलैंड के लिए केल कोएत्जर ने सबसे अधिक 71 रन बनाए. इसके अलावा कप्तान प्रेस्टन मोमसेन ने 26 और विकेटकीपर मैथ्यू क्रास ने 23 रन जोड़े. मोमसेन और कोएत्जर ने चौथे विकेट के लिए 60 रन जोड़े. अपनी 84 गेंदों की पारी में 11 चौके लगाने वाले कोएत्जर ने स्कॉटलैंड के लिए विश्व कप में दूसरी सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी खेली. सबसे बड़ी पारी 76 रनों की रही है, जो जीएम हेमिल्टन ने 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ खेली थी.
इंग्लैंड को इससे पहले के दो पूल मैचों में हार मिली थी. उसे पहले मैच में आस्ट्रेलिया ने हराया था जबकि दूसरे मुकाबले में न्यूजीलैंड ने करारी शिकस्त दी थी. दूसरी ओर स्काटिश टीम अब तक खेले गए अपने दोनों मैच हार चुकी है. स्कॉटलैंड को इससे पहले न्यूजीलैंड ने हराया था.

इससे पहले स्कॉटलैंड ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया. कप्तान प्रेस्टन मोमसेन का यह फैसला उस समय गलत साबित हुआ, जब मोइन और इयान बेल (54) ने पहले विकेट के लिए 172 रन जोड़कर अपनी टीम को मजबूत आधार दिया.

बेल और मोइन ने विश्व कप में पहले विकेट के लिए अब तक की सबसे बड़ी साझेदारी को अंजाम दिया. इसी नींव पर इंग्लैंड ने 50 ओवरों में आठ विकेट पर 303 रनो का मजबूत स्कोर खड़ा किया. स्कॉटलैंड की ओर से जोश डेवे ने चार विकेट लिए लेकिन वह इंग्लैंड को बड़ा स्कोर खड़ा करने से नहीं रोक सके. मोइन ने 107 गेंदों का सामना कर 12 चौके और पांच छक्के लगाए. वह 27 साल के अंतराल के बाद न्यूजीलैंड में एकदिवसीय शतक लगाने वाले पहले इंग्लिश बल्लेबाज बने. इससे पहले नेपियर में क्रिस ब्रॉड ने 106 रनों की पारी खेली थी. बेल ने 85 गेंदों का सामना किया और दो चौके लगाए. इन दोनों के अलावा कप्तान इयोन मोर्गन ने 42 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 46 रन बनाए. मोर्गन ने जेम्स टेलर (17) के साथ पांचवें विकेट के लिए 49 और फिर जोस बटलर (24) के साथ छठे विकेट के लिए 45 रनों की साझेदारी की. स्कॉटिश टीम ने 21 रन अतिरिक्त के तौर पर लुटाए.

Related Posts: