नयी दिल्ली,

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व संग्रह अक्टूबर महीने के लिए आज तक 83346 करोड़ रुपये रहा है और 50.1 लाख रिटर्न 26 नवंबर तक दाखिल किये गये हैं।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार 27 नवंरब तक अक्टूबर महीने के लिए 83346 करोड़ रुपये का जीएसटी राजस्व संग्रह हुआ है।अब तक जीएसटी के लिए 95.9 लाख करदाता पंजीकरण करा चुके हैं जिनमें से 15.1 लाख ने कंपोजिशन स्कीम का चयन किया है और उन्हें तिमाही रिटर्न दाखिल करना पड़ता है।

जीएसटी के लागू होने पर अगस्त, सितंबर, अक्टूबर और 27 नवंबर तक राज्यों ने सीजीएसटी के तहत 87238 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रह किया है।अंतर राज्यीय व्यापार के मामलें में आईजीएसटी खाते से एसजीएसटी खाते में अब तक कुल मिलाकर 313821 करोड़ रुपये का हस्तातंरण किया गया है।

केन्द्र ने कहा है कि जहां तक वस्तु एवं सेवा (राज्य क्षतिपूर्ति) कानून 2017 के तहत जीएसटी कर संग्रह में कमी आने के बावजूद राज्यों के राजस्व पूरी तरह सुरक्षित है।जुलाई और अगस्त महीने के लिए सभी राज्यों को क्षतिपूर्ति के लिए 10806 करोड़ रुपये का हस्तातंरण किया गया है।

सितंबर और अक्टूबर महीने के लिए 13695 करोड़ रुपये की राशि हस्तातंरित की जा रही है।इस तरह से राज्यों के राजस्व का पूरी तरह से संराा किया जा रहा है और क्षतिपूर्ति वर्ष 2015-16 के आधार वर्ष के अनुरूप दिया जा रहा है तथा राजस्व में 14 प्रतिशत की बढोतरी का अनुमान है।

Related Posts: