modiनई दिल्ली, 15 फरवरी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दिल्ली स्थित विज्ञान भवन पहुंचे। जहां उन्होंने वैश्विक अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में आयोजित रीइंवेस्ट 2015 कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

इस कार्यक्रम में कई देशों के निवेशक भी मौजूद थे। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पहले हम बिजली उत्पादन के क्षेत्र में मेगावाट की बात करते थे, लेकिन अब मेगा नहीं गीगावाट की बात होगी, जो हमारे गांवों के अंधेरों को दूर करेगा। विज्ञान भवन में ऊर्जा मंत्रालय की ओर से अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में आयोजित सम्मेलन व प्रदर्शनी के दौरान भारत से अंधेरे को दूर करने की पहल दिखी। उद्धाटन के बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि मेरे दिमाग में अंधेर में डूबे गांव हैं जिन्हें रोशनी देने के लिए मैं रास्ते खोज रहा हूं। देश में गरीब परिवार अपने बच्चों को शिक्षित करना चाहता है लेकिन परीक्षा के दौरान रात में वो अध्ययन करने में सक्षम नहीं हो पाता।

Related Posts: