BPL4भोपाल,   अगले साल तक 50 हजार व्यक्ति को स्किल्ड किया जायेगा. इनमें 25 हजार महिलाएं होंगी. उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने यह बात इंटरनेशनल एजुकेशन एण्ड स्किल डेवलपमेंट समिट-2016 का शुभारंभ कर कही.

गुप्ता नेे कहा कि हर जिले में छात्रों का सम्मेलन किया जायेगा. इसका आयोजन नगर निगम भोपाल द्वारा ब्रिटीश उच्चायोग, वैदिक ग्लोबल कनेक्ट प्राईवेट लिमिटेड के सौजन्य से कराया गया था. उन्होंने कहा कि प्रदेश में क्वालिटी एजुकेशन पर जोर दिया जा रहा है. श्री गुप्ता नेे कहा कि क्वालिटी एजुकेशन का अर्थ है कि विद्यार्थियों को रोजगार की गारंटी मिले. केवल डिग्री से रोजगार नहीं मिलता. इसके लिये स्किल्ड होना जरूरी है.

उन्होंने कहा कि कारीगर समृद्धि योजना में परम्परागत व्यवसाय से जुड़े कारीगरों को परीक्षा के बाद प्रमाण-पत्र दिये जायेंगे. समिट में दिये जाने वाला साहित्य अंग्रेजी के साथ-साथ हिन्दी में भी होना चाहिये. मिस्टर एंडी बर्र फस्र्ट सेक्रेटरी ब्रिटिश हाई कमीशन नई दिल्ली ने कहा कि ब्रिटेन और भारत के बीच वाणिज्य और व्यापार बढ़ाने के लिये लगातार प्रयास किये जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग प्रशासनिक सुधार आयोग की अनुशंसाओं पर क्रियान्वयन संचालन समिति का पुनर्गठन किया जायेगा.

मप्र की यूनिर्वसिटीज- इस सम्मिट में मप्र की नामी ग्रामी यूनिर्वसिटीज आरजीपीवी जिसके वायस चांसलर पीयूष त्रिवेदी, जेएनसीटी, आरकेडीएफ, ओरिएंटल, आईसेक्ट, पीपुल्स सहित अन्य शामिल रहे. इनके प्रतिनिधियों ने भी अपने विचार विदेशी प्रतिनिधियों के समक्ष प्रकट किए.

शामिल ब्रिटिश काउंसिल के सदस्य- सम्मिट में ब्रिटिश हाई कमिशन के ट्रेड एण्ड इन्वेस्टमेंट एडवायजर मिस्टर जॉन बन्टर ने डेलिगेशन का परिचय कराया. उन्होंने कहा कि ब्रिटिश काउंसिल वर्तमान में 12 देशों में लीड कर रही र्र्है. िब्रटीश काउंसिल नई दिल्ली की हेड मिस शीला चेरियन ने कहा कि भारतीय छात्र स्कील डेवलपमेंट कर यूके में अनेकों यूनिर्वसिटीज में दी जा रही स्कॅालरशिप के जरीए शिक्षा प्राप्त कर रोजगार कर सकते हैं.

इसी के साथ मिस सुचिता गोकरण हेड प्रमोशन ब्रिटिश काउंसिल मुबंई भी सम्मिट में शामिल रहीें.