as3भोपाल, 13 जुलाई, नभासं. भाजपाध्यक्ष अमित शाह के सोमवार को राजधानी आगमन पर खासी गहमागहमी रही. बैठक के दौरान उनके द्वारा सुनाई गई एक कहानी खूब चटकारे लेकर सुनी गई. उन्होंने कहा कि हमें अपनी कमजोरी को घर में ही बताना चाहिए, न कि उसे बाहर. अगर बच्चा कमजोर है तो यह बात बाहर नहीं होनी चाहिए. सत्ता में होने की वजह से हमें अपना आचरण और व्यवहार को अच्छा रखना जरूरी हो जाता है.

कई बार मीडिय़ा के जरिए भ्रम फैलाने की कोशिश होती है,पर उससे हमें सतर्क रहना चाहिए. वह महासंपर्क अभियान में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की क्षेत्रीय समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने भाजपाईयों को हिदायत दी कि जो मिस्ड कॉल से सदस्य बने हैंं, उनके साथ इसी माह फिर से संपर्क स्थापित करें. जबकि इस अवधि में अन्य कोई कार्यक्रम हाथ में नहीं लें. उधर, संगठन मंत्री रामलाल ने नेताओं से सीधा संवाद कर उनके क्षेत्र की जानकारी प्राप्त की.

Related Posts: