भोपाल,  वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री अजय सिंह को राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता पद की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। पार्टी सूत्रों के अनुसार पार्टी हाईकमान ने आज श्री सिंह के नाम को हरी झंडी दिखा दी। हाल ही में यहां कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से पारित प्रस्ताव में नेता प्रतिपक्ष के चयन के लिए कांग्रेस हाईकमान को अधिकृत किया गया था।

बैठक में मौजूद रहे केंद्रीय पर्यवेक्षक अजय माकन ने इस प्रस्ताव से पार्टी हाईकमान को अवगत कराया। इस बीच राज्य विधानसभा के बजट सत्र के तीसरे दिन आज वरिष्ठ कांग्रेस विधायक डॉ गोविंद सिंह ने सदन को इस बात की जानकारी दी कि श्री अजय सिंह नेता प्रतिपक्ष बनाए गए हैं। श्री सत्यदेव कटारे के निधन के बाद से राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष का पद काफी समय से रिक्त था। वर्ष 2018 के अंत में राज्य विधानसभा के चुनाव के मद्देनजर यह नियुक्ति काफी अहम मानी जा रही है।

श्री सिंह दिवंगत वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री अर्जुन सिंह के पुत्र हैं और वे नेता प्रतिपक्ष की अहम जिम्मेदारी पहले भी निभा चुके हैं। कई बार विधायक चुने जाने के साथ ही श्री सिंह दिग्विजय सिंह सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। कल ही राजधानी भोपाल में कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में राज्य सरकार के खिलाफ बडा प्रदर्शन किया गया था। इस प्रदर्शन के दौरान वरिष्ठ नेता कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, मोहन प्रकाश, अरूण यादव, अजय सिंह, सुरेश पचौरी और अन्य सांसद, विधायक, पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारियां दी थीं।

Related Posts: