bpl5भोपाल, भारतीय प्रशासनिक सेवा, वन सेवा एवं पुलिस सेवा के मंत्रालय और मुख्यालय में पदस्थ वरिष्ठ अधिकारी 25, 26 और 27 अक्टूबर को प्रदेश के गांवों में जायेंगे.वे अवर्षा से प्रभावित किसानों और उनके परिवारों के बीच बैठकर स्थिति पर चर्चा करेंगे.साथ ही हितग्राहीमूलक योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति की भी जानकारी लेंगे.मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहाँ सभी अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और सचिवों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए यह निर्देश दिए.

यह समय मंत्रालय में बैठने का नहीं किसानों के बीच जाने का है चौहान ने किसानों के संकट की स्थिति से अधिकारियों को अवगत करवाते हुए कहा कि यह समय मंत्रालय में बैठने का नहीं बल्कि गाँव-गाँव जाकर किसानों के बीच बैठने, उनका दु:ख-दर्द सुनने और उन्हें अधिकतम राहत देने के उपाय करने का है.
उन्होंने कहा कि अवर्षा के कारण किसानों पर गहरा संकट आया है.यह समय किसानों का संकट दूर करने में अधिकारियों की प्रतिभा, क्षमता और कर्त्तव्य परायणता के प्रदर्शन करने का है.चौहान ने कहा कि वे स्वयं और मंत्रीमंडल के सभी सदस्य भी गाँव-गाँव जायेंगे.चौहान ने कहा कि कठिन समय में यह सकारात्मक शुरूआत है.

इसके अलावा विभिन्न हितग्राहीमूलक योजनाओं तथा नि:शुल्क दवा वितरण, स्वच्छता और शालाओं में बच्चों की स्थिति, आंगनवाड़ी का संचालन और उनमें बच्चों की उपस्थिति आदि विषय को भी भ्रमण के दौरान शामिल किया जाएगा.बैठक में मुख्य सचिव अन्टोनी डिसा एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

Related Posts: