19bph18मण्डावर 19 अगस्त, नससे. प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत जून 2015 में बनाई ग्राम मोई से लेकर दौलतपुरा की 4.90 किमी सड़क मार्ग के निर्माण के साथ ही ग्राम घिंयाखेड़ी में सी.सी. रोड बनाया गया. किंतु इस सड़क निर्माण में अधिकारीयों व इंजीनियर की अनदेखी के कारण सड़क का सही ढलान नहीं होने तथा नाली निर्माण नहीं होने से पानी निकासी नहीं हो पा रही है.

सड़क पर दो-दो फीट बारिश का पानी जमा होकर घरों में पानी घुस रहा है. जिसका खामियाजा ग्रामीणों को उठाना पड़ रहा है. गांव से लेकर स्कूल तक पांच सौ मीटर सड़क में घुटने-घुटने पानी भरा हुआ है. तेज बारीश होने पर घरों में पानी घुस जाता है.

मच्छर पनप रहे, बिमारियां हो रही – पानी भरा रहने के कारण मच्छर पनप रहे है जो अनेक प्रकार की बिमारियों का घर बने हुए है. लोग बीमार हो रहे है.
कई गांवों के ग्रामीण गुजरते है इस रास्ते से- उक्त मार्ग से होकर करीब 9 गांवों का रास्ता जाता है. मार्ग पर पानी भराव के कारण ग्रामीणों को आवाजाही में काफी तकलीफ हो रही है. ग्रामीणों का दुपहिया वाहन लेकर एवं पैदल निकलना तक दुभर हो चला है. पानी निकासी के प्रति इस तरह की घोर अनदेखी के कारण बेवजह ग्रामीणों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

गलत सूचना बोर्ड लगा दिया– सड़क निर्मान के दौरान दौलतपुरा गांव में सूचना बोर्ड लगाया गया. जिस पर ग्राम मोई से दौलतपुरा लिखना था किंतु अनदेखी और लापरवाही के कारण मोई की जगह खानपुरा लिख दिया. आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि इस और अभी तक किसी ने ध्यान नहीं देते हुए इसकी अनदेखी की है. इस समूचे मामले में जब संबंधित अधिकारी से चर्चा करना चाही तो उनका मोबाईल स्वीच ऑफ ही आया.

Related Posts: