18nn6भोपाल,18 अगस्त.महात्मा गाँधी राज्य ग्रामीण विकास संस्थान, जबलपुर के शासी मण्डल की बैठक आज पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव की अध्यक्षता में हुई.भार्गव ने प्रशिक्षण संबंधी विभिन्न शिकायत और अनियमितताओं के आधार पर कतिपय स्वयंसेवी संस्थाओं को ब्लेक लिस्टेड करने के निर्देश दिये.

मंत्री भार्गव ने शासकीय योजनाओं और कार्यक्रमों के प्रशिक्षण की गुणवत्ता पर जोर देते हुए कहा कि प्रशिक्षण ही विकास कार्यों की सफलता का आधार है.इसके लिये बेहतर संस्थाओं का ही चयन होना चाहिए.उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण की वीडियोग्राफी भी आवश्यक रूप से की जाये.बैठक में अपर मुख्य सचिव श्रीमती अरूणा शर्मा सहित शासी मण्डल के सदस्य मौजूद थे.

आयुक्त पंचायत राज रघुवीर श्रीवास्तव ने बताया कि नव-निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों का प्रशिक्षण शुरू किया जा रहा है.करीब 3 लाख 50 हजार पंच तथा सरपंच को स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जायेगा.जिला तथा जनपद पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों को विभागीय प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण दिया जायेगा.

संचालक रोजगार-प्रशिक्षण विभाष कुमार ठाकुर ने जानकारी दी कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास संबंधी शासकीय योजनाओं के प्रशिक्षण के लिये उपयुक्त 68 स्वयंसेवी संस्थाओं का चयन किया गया है.इनमें से 64 संस्थाओं द्वारा प्रशिक्षण कार्य संबंधी एमओयू किये गये.चयनित संस्थाओं के माध्यम से पंचायत राज, मनरेगा, जलग्रहण विकास कार्यक्रम, स्वच्छ भारत अभियान, आजीविका, सामाजिक अंकेक्षण, आवास योजना और तकनीकी कार्यों के संबंध में प्रशिक्षण गतिविधियाँ करवाया जाना प्रस्तावित है.एक संस्था को एक ही जिले में प्रशिक्षण का काम दिया जायेगा.

Related Posts: