pranabनयी दिल्ली,  राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने भारत में अध्ययनरत अफ्रीकी विद्यार्थियों को आज आश्वस्त किया कि उन्हें अपनी सुरक्षा एवं संरक्षा को लेकर डरने की कोई जरूरत नहीं है।

श्री मुखर्जी ने विभिन्न देशों के मिशन प्रमुखों के सातवें वार्षिक सम्मेलन में अपने उद्बोधन में कहा कि अफ्रीकी विद्यार्थियों पर हाल के हमलों से वह निजी तौर पर काफी आहत हैं, क्योंकि यह छात्र, राजनीतिक कार्यकर्ता और एक सांसद के तौर पर यह देखते और महसूस करते आए हैं कि भारत और अफ्रीका कितने निकट सहयोगी रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यहां के नागरिकों द्वारा अफ्रीका के लोगों के साथ अपने लंबे दोस्ताना संबंधों पर कुठाराघात करना अत्यधिक दुर्भाग्यपूर्ण होगा, क्योंकि भारतवासियों ने अफ्रीकी लोगों के लिए हमेशा से स्वागत के हाथ बढाये हैं।

Related Posts: