उसने अमेरिका को 15 साल खूब मूर्ख बनाया, बस अब और नहीं: डोनाल्ड ट्रंप

आतंकवाद को संरक्षण देने, 
की नीति पर करारा हमला

वॉशिंगटन,

नए वर्ष 2018 के पहले दिन ही अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान पर शिकंजा कसने के संकेत दे दिए हैं. ट्रंप ने ट्वीट कर पाकिस्तान की आतंकवाद को संरक्षण देने की नीति पर करारा हमला बोला है.

इसके साथ ही उन्होंने अमेरिका के पूर्ववर्ती शासकों को भी निशाने पर लिया है.ट्रंप के इस ट्वीट से संकेत मिलते हैं कि पाकिस्तान की आतंकी संगठनों को संरक्षण देने की नीति पर अमेरिका की ओर से इस साल में शिकंजा कसा जा सकता है. इससे पहले भी इस मुद्दे पर ट्रंप प्रशासन की ओर से पाकिस्तान को कई बार फटकार लगाई जा चुकी है.

बीते साल भी अमेरिका ने पाकिस्तान को कई बार आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी. अमेरिका ने कहा था कि पाकिस्तान को अपनी सरजमीं से संचालित होने वाले आतंकी संगठनों के प्रति अवश्य ही अपना रुख बदलना चाहिए और उनके खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करनी चाहिए.

माना जा रहा है कि पाकिस्तान में हाफिज सईद के चुनावी समर में उतरने की संभावनाओं और अदालत की ओर से उसे रिहा किए जाने के फैसले के बाद ट्रंप ने यह हमला बोला है. ट्रंप के इस ट्वीट से इस बात के संकेत मिलते हैं कि साल 2018 में पाकिस्तान की ओर से आतंकवाद समर्थित नीतियों के प्रति अमेरिका रवैया नरम नहीं रहेगा.

अमेरिका ने मूर्खतापूर्ण ढंग से बीते 15 सालों में पाकिस्तान को 33 अरब डॉलर की सहायता दी है. लेकिन बदले में हमें झूठ और छल के अलावा कुछ भी नहीं मिला. हमारे नेताओं को मूर्ख समझा गया. वे आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह देते रहे और हम अफगानिस्तान में खाक छानते रहे. अब और नहीं.
-डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट से

Related Posts: