मैं तेरह माह से प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांग रहा हूं

नवभारत न्यूज जबलपुर,

इस समय भाजपा को एक दो लोग ही चला रहे हैं। अब पार्टी का रूप अटल आडवाणी के जमाने की तरह नहीं रह गया है। मैं पिछले तेरह माह से प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांग रहा हूॅं,लेकिन मुझे मिलने का अब तक समय नहीं मिला।

तभी से मैने प्रतिज्ञा की कि अब बातचीत खुले मैदान में होगी बंद कमरे में नहीं की जायेगी। इसलिए मैं किसानों की समस्याओं को लेकर देश के विभिन्न क्षेत्रों में जा रहा हॅूं। उक्त वक्तव्य पूर्व वित्तमंत्री और भाजपा के वरिष्टतम नेता यशवंत सिन्हा ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान व्यक्त किए।

कृषि कर्मणा पुरस्कार में सरकार की बाजीगरी

मध्यप्रदेश को कृषि कर्मणा पुरूस्कार मिलने पर पूछे गए सवाल पर श्री सिन्हा ने कहा कि ये प्रदेश सरकार की बाजीगरी का खेल है। इसी बीच देश के पूर्व कृषि मंत्री सोमपाल शास्त्री ने मध्यप्रदेश और गुजरात की कृषि विकास दर को फर्जी करार दिया।

राष्ट्रीय मीडिया पर बरसे

पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने राष्ट्रीय मीडिया की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस समय राष्ट्रीय चैनल सरकार की खुशामद में लगे हुए है। देश के महत्वपूर्ण मुद्दों पर अब उनका ध्यान नहंी जाता है। देश का किसान भूखे मर रहा है जंतर मंतर पर किसान आंदोलित है फिर भी राष्ट्रीय चैनल ऐसे मामले को प्रमुखता से दिखाने में कोताही बरतते हैं।

ये रहे मौजूद

आज की पत्रकारवर्ता के दौरान पूर्व कृषि मंत्री सोमपाल शास्त्री शिवकुमार कक्का अचल सिंह गौर प्रतुल श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

एफडीआई से छोटे धंधे होंगे चौपट

देश के पूर्व एचआरडी मंत्री और भाजपा के वरिष्ठतम नेता डॉ.मुरली मनोहर जोशी व मैने स्वयं ही एफडीआई की चिंता से अवगत होते हुए कहा था कि इसके लागू होने से देश के छोटे-मोटे धंधे चौपट हो जायेंगे व इससे देश में बेरोजगारी बढ़ेगी,शायद उस समय हम लोगों में बुद्धि का अभाव था,लेकिन आज की सरकार के पास अधिक बुद्धि हो गई,जिसने 100 प्रतिशत एफडीआई को स्वीकृति दे दी।

हमारे स्वदेशी जागरण मंच के लोग क्या करते है इसका खुलासा कल तक हो सकेगा। 2004 से लेकर 2014 तक हम लोग 10 वर्षों तक सरकार से बाहर रहने पर जिन नीतियों का घोर विरोध किया। सत्ता में आते ही उन्हीं नीतियों को तेजी से लागू कर दिया।

Related Posts: