झाबुआ, पेटलावद ब्लास्ट मामले में एफआईआर की राजनीति तेज हो गई है। संघ के प्रदर्शन के प्रतिउत्तर में बुधवार दोपहर में पूर्व प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया और उनके समर्थकों ने झाबुआ पुलिस कोतवाली पहुंचकर प्रदेश भाजपाध्यक्ष नंदकुमारसिंह चौहान के विरूद्व दुष्प्रचार के मामले में एफआईआर की मांग को लेकर भूरिया थाने के प्रवेश द्वार पर आमरण अनशन पर बैठ गये।

भूरिया ने कहा कि 16jba1दो दिन पूर्व भोपाल में चौहान ने पेटलावद ब्लास्ट के मुख्य आरोपी राजेंद्र कांसवा को उनके पुत्र विक्रांत भूरिया के बीच गहारी दोस्ती की बात कहकर उनकी तथा उनके पुत्र की छवि खराब की है।

Related Posts:

लक्ष्मीकांत शर्मा राष्ट्रभाषा गौरव से सम्मानित
आकाश मिसाइल के दो और सफल परीक्षण पूरे
भारत 9 साल के शासन में असहाय असुरक्षित
चीन परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत के प्रवेश का विरोध जारी रखेगा
मोदी ने किया 'बर्ड्स ऑफ बन्नी ग्रासलैंड्स' पुस्तक का विमोचन
भारत के विशाल पारंपरिक ज्ञान का फायदा उठा सकता है ब्रिटेन : मोदी