pak1इस्लामाबाद,  पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने आज कहा कि अमेरिका ने एफ-16 विमानों की खरीद के लिए पहले की सहमति के अनुसार अगर धन उपलब्ध नहीं कराया तो पाकिस्तान दूसरे देशों से विमानों की खरीद करेगा.

उन्होंने यह साफ नहीं किया कि पाकिस्तान किस देश से किस प्रकार का विमान खरीदेगा. पाकिस्तान ने आठ एफ-16 लड़ाकू विमानों के लिए अमेरिका से समझौता किया था, जिसके अनुसार उसे अपने राष्ट्रीय कोष से 27 करोड़ डालर की रकम अदा करनी थी और शेष रकम अमेरिका को फारेन मिलिट्री फाइनेसिंग फंड से देनी थी. लेकिन बुधवार को अमेरिकी कांग्रेस की सुनवाई के दौरान सांसदों ने ओबामा प्रशासन को इस सौदे के लिए धन स्वीकृत करने से इनकार कर दिया.

पिछले शुक्रवार को अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारी ने बताया कांग्रेस ने पूरे सौदे पर रोक लगा दी है और पाकिस्तान को विमानों की खरीद के लिए अमेरिकी कोष से धन देने से इनकार कर दिया है. सोमवार को दोपहर बाद विदेश विभाग ने कहा कि पाकिस्तान को विमानों के लिए अपने कोष से धन देना होगा. नवीनतम घोषणा से विमानों की खरीद का सौदा वस्तुत: निरस्त हो गया है. पाकिस्तान के लिए ढाईगुना अधिक धन देकर विमान खरीदना संभव नहीं होगा.

Related Posts: