मुंबई ,

एशियाई बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बावजूद चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में देश की आर्थिक विकास दर में सुधार होने की संभावना से हुयी लिवाली के बल पर घरेलू शेयर बाजार में आज लगातार आठवें दिन तेजी का रूख बना रहा।

इस दौरान बीएसई के 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 45.20 अंक चढ़कर 33724.44 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 9.85 अंक उठकर 10399.55 अंक पर रहा।

इस दौरान बड़ी कंपनियों की तुलना छोटी और मझौली कंपनियों में अधिक लिवाली हुयी जिससे बीएसई मिडकैप 87.89 अंक अर्थात 0.52 प्रतिशत बढ़कर 17022.21 अंक पर और स्मॉलकैप 0.77 फीसदी अर्थात 139.37 अंक उछलकर 18163.92 अंक पर पहुंच गया।

सत्र के दौरान बीएसई में कुल 2880 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1565 बढ़त में और 1131 गिरावट में रहे जबकि 184 में कोई बदलाव नहीं हुआ।एशियाई बाजार से मिले नकारात्मक संकेतों से बीएसई का सेंसेक्स 39 अंकों की गिरावट लेकर 33640.51 अंक पर खुला और बिकवाली के दबाव में यह 33540.46 अंक तक लुढ़का।

हालांकि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में आर्थिक गतिविधियों में सुधार होने के अर्थशास्त्रियों के अनुमान के बाद शुरू हुयी लिवाली के बल पर यह 33745.17 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया।अंत में यह पिछले दिवस के 33679.24 अंक की तुलना में 0.13 प्रतिशत अर्थात 45.20 अंक की बढ़त लेकर 33724.44 अंक पर रहा।

इसी तरह से एनएसई का निफ्टी 27 अंक फिसलकर 10361.05 अंक पर खुला और बिकवाली के कारण यह 10340.20 अंक के निचले स्तर तक उतरा।इसी दौरान लिवाली शुरू होने पर यह 10407.15 अंक के उच्चतम स्तर तक चढ़ा।अंत में यह पिछले सत्र के 10389.70 अंक की तुलना में 0.09 प्रतिशत अर्थात 9.85 अंक बढ़कर 10394.55 अंक पर रहा।

Related Posts: