खास बातें

  • अब कार्यकर्ताओं का 10 हजार और सहायिकाओं का 5 हजार रूपये महीना होगा मानदेय
  • सेवानिवृत्ति आयु 62 साल होगी
  • उत्कृष्ट कार्यकर्ताओं को मिलेगा दीन दयाल पोषण पुरस्कार
  • आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं की कार्यशाला में मुख्यमंत्री चौहान ने की घोषणाएँ

भोपाल,

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 10 हजार रूपये और सहायिकाओं का मानदेय 5 हजार रूपये महीने करने की घोषणा की है. साथ ही सेवानिवृत्ति की आयु भी शासकीय कर्मचारियों के समान 62 वर्ष की जाएगी. उन्हें यात्रा भत्ता भी दिया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका से आग्रह किया कि वे आंगनवाड़ी का उत्कृष्ट प्रबंधन करें और कुपोषण मुक्त मध्यप्रदेश बनाने में पूरी मेहनत से काम करें. चौहान रविवार को निवास पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं के लिए पोषण अभियान पर आयोजित उन्मुखीकरण कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे.

कार्यशाला में प्रदेश भर से आई आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं ने भाग लिया. मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं का आव्हान किया कि मध्यप्रदेश से कुपोषण की चुनौती को हमेशा के लिए समाप्त करने में सहयोग दें.

उन्होंने कहा कि किसी भी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका को बिना जांच किए नहीं हटाया जाएगा. यदि आंगनवाड़ी सहायिका द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के रूप में चयन के लिए आवेदन किया जाता है तो उन्हें वरीयता दी जाएगी.

मुख्यमंत्री ने दीनदयाल पोषण पुरस्कार की भी घोषणा की. रिटायरमेंट के बाद आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को एक लाख रुपए और आंगनवाड़ी सहायिकाओं को 75000 रूपये दिए जाएंगे. यदि आकस्मिक रुप से उनकी मृत्यु हो जाती है तो उनके परिवार को दो लाख की आर्थिक सहायता दी जाएगी. साथ ही उनकी बहन या बेटी को कार्यकर्ता सहायिका के चयन में 10 अंक की वरियता दी जायेगी.

Related Posts: