09kk1नई दिल्ली, 9 जुलाई. ब्राजील को 2002 में विश्व चैंपियन बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले दिग्गज खिलाड़ी 42 वर्षीय राबर्टो कार्लोस इंडियन सुपर लीग के दूसरे सत्र में दिल्ली डायनामोज की ओर से टीम को चैंपियन बनाने के लक्ष्य के साथ मैदान में उतरेंगे.

कार्लोस दिल्ली डायनामोज के मैनेजर बने थे लेकिन गुरुवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने घोषणा की कि वह दिल्ली डायनामोज के लिये इस बार मैदान में उतरकर अपने कौशल का प्रदर्शन करेंगे.
अपनी तेज तर्रार किक के लिये बुलेटमैन के नाम से विख्यात कार्लोस ब्राजील के लिये तीन विश्वकप खेल चुके हैं. वह 1998 की उपविजेता और 2002 की चैंपियन ब्राजील टीम का हिस्सा रहे थे.

दिल्ली डायनामोज ने इस तरह कार्लोस को टीम का मार्की मैनेजर और मार्की प्लेयर बनाने की घोषणा कर दी. कार्लोस ने इसके लिये टीम के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर भी किये. कार्लोस ने 39 वर्ष की उम्र में फुटबॉल से संन्यास लिया था और उसके बाद वह कोच की भूमिका निभा रहे थे. लेकिन अब 42 वर्ष की उम्र में मैदान पर उतरने जा रहे कार्लोस ने कहा कि मैं आईएसएल के दूसरे सत्र में खिलाड़ी के रूप में खेलूंगा. मैंने 20 दिन पहले अपना आखिरी मैच खेला था और उस मैच में दो गोल भी किये थे.

कार्लोस ने कहा कि मैं संन्यास के बाद जहां भी कोच रहा मैं पूरी गंभीरता के साथ अभ्यास करता था. मैं फुटबॉल से प्यार करता हूं और गोल स्कोर करना चाहता हूं. यदि मुझे लगता कि मेरा स्तर ऊंचा नहीं है तो मैं खेलने नहीं उतरता. मैं अब भी अच्छा प्रदर्शन कर सकता हूं और मेरा लक्ष्य दिल्ली को इस बार चैंपियन बनाना है.

Related Posts: