नई दिल्ली,  आईटीबीपी पब्लिक स्कूल के नवीन भवन का उद्घाटन भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के महानिदेशक श्री कृष्ण चौधरी ने सेक्टर 16बी, द्वारका में किया. इस स्कूल का निर्माण नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन (एनबीसीसी) ने किया है।

इस मौके पर कृष्ण चौधरी ने बच्चों में उच्च आदर्शों के प्रति लगाव पैदा करने का आह्वïान किया. उन्होंने आईटीबीपी परिवारों के बच्चों के लिये गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की आवश्यकता पर बल दिया. उन्होंने कहा कि यह विद्यालय भवन आईटीबीपी की इंप्लाई एजुकेशन सोसायटी फंड (ईईएसएफ) की ओर से निर्मित किया गया है. आईटीबीपी के कर्मियों द्वारा इसके लिये योगदान कर कोष संग्रहित किया गया है. आईटीबीपी के इस स्कूल भवन का निर्माण कार्य दो वर्ष में पूरा किया गया. इसमें लगभग 1820 छात्र शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे. प्री-नर्सरी से लेकर 12वीं कक्षा तक के छात्र इस विद्यालय में प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं. 52 कमरों की क्षमता वाले इस पब्लिक स्कूल में बहुपयोगी ऑडिटोरियम, साइंस, प्रयोगशाला, कम्प्यूटर लैब, लाईब्रेरी और कैंटीन की सुविधा उपलब्ध है.

विद्यालय भवन की प्रस्तावित रुपरेखा में वर्षाजल संग्रहण प्रणाली का भी विशेष ध्यान रखा गया है. विद्यालय में छात्रों के लिये इंडोर तथा आउटडोर स्पोटर््स एक्टिविटी हेतु भी व्यवस्था की गई है. बेसमेंट के साथ इस विद्यालय में कुल 6 तल है. कालान्तर में इस विद्यालय हेतु एक छात्रावास भी प्रस्तावित है.
कार्यक्रम में आईटीबीपी के वरिष्ठï अधिकारी व एनबीसीसी के अधिकारी भी उपस्थित थे. दिपेश जुनेजा (आईजी मुख्यालय) ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी गणमान्य लोगों का स्वागत किया. इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में छात्र, आईटीबीपी के अधिकारी और जवान उपस्थित रहे.

विवेक कुमार पांडेय ने बताया कि आईटीबीपी का सश सीमा प्रहरी केंद्रीय पुलिस बल है. तथा भारत चीन सीमा की चौकसी के प्रति उत्तरदायी है. इसके अतिरिक्त बल को आंतरिक सुरक्षा तथा एंटी नक्सल ऑपरेशन में भी भूमिकाएं दी गई है.