एसडीएम सहित निगम के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे

नवभारत न्यूज रतलाम,

शहर के बीचो-बीच स्थित ज्योति होटल पर नगर निगम ने अपना कब्जा कर लिया है। शहर एसडीएम एवं निगम अधिकारियों की मौजूदगी में ज्योति होटल को सील करते हुए निगम ने अपने कब्जे में ले लिया है।

कार्रवाई के दौरान जहां अधिकारी मौजूद थे वहीं काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए थे। शनिवार को ही जिला न्यायालय ने नगर निगम की अपील स्वीकार कर कब्जा हासिल करने के आदेश दे दिए थे।

सोमवार सुबह ज्योति होटल का कब्जा लेने के लिए निगम के अधिकारी निगम के कर्मचारियों के साथ दो बत्ती पहुंचे। अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने वहां पहुंचकर कब्जा पंचनामा बनाया और होटल को सील कर दिया। होटल को सील किए जाने की जानकारी कुछ ही मिनटों में फैल गई थी। कार्रवाई को देखने के लिए बडी संख्या में लोग वहां एकत्रित हो गए थे।

आदेश के बाद भी ढाई वर्षों तक चला केस, ज्योति होटल के मामले में इन्दौर उच्च न्यायालय द्वारा विगत 30 अक्टूबर 2014 को ज्योति होटल का कब्जा नगर निगम को दिए जाने का स्पष्ट आदेश पारित किया था।

उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति एससी शर्मा ने ज्योति होटल के संचालक द्वारा दायर याचिका को दो हजार रुपए अर्थदण्ड आरोपित करते हुए निरस्त किया था और आदेश में यह स्पष्ट किया था कि ज्योति होटल की लीज विधिवत रुप से समाप्त हो चुकी है और ऐसी स्थिति में ज्योति होटल संचालक को ज्योति होटल पर कब्जा रखने का कोई अधिकार नहीं है।

इस आदेश में नगर निगम को कहा गया था कि वह विधि की प्रक्रिया के अनुसार कब्जा प्राप्त कर लें। उच्च न्यायालय के स्पष्ट आदेशों के बावूजद तत्कालीन निगम एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों के चलते मामला एसडीएम कोर्ट में ढाई साल तक बेवजह लम्बित रखा गया।

Related Posts: