taj mahalनई दिल्ली/ आगरा, 28 जुलाई. आगरा के कुछ वकीलों ने 21 वीं शताब्दी के मुगल स्मारक ताजमल को मूल रूप से शिवमंदिर होने का दावा किया है. आगरा के विश्व प्रसिद्ध ताजमहल के मूल रूप से शिवमंदिर होने का दावा करने वाली याचिका पर कोर्ट ने संस्कृति मंत्रालय से जवाब मांगा है.

कोर्ट ने संस्कृति मंत्रालय से 10 अगस्त तक जवाब दाखिल करने को कहा है. दरअसल, आगरा के छह वकीलों ने ताजमल को मूल रूप से शिवमंदिर बताया है.

Related Posts: