महोबा,   मध्य प्रदेश के रास्ते साधु और सन्यासियों के भेष में आतंकियों की घुसपैठ की संभावना के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में एहतियात के तौर पर महोबा से सटी मध्य प्रदेश की सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है।

पुलिस उप अधीक्षक जितेंद्र दुबे ने आज यहां बताया कि सरकार से प्राप्त निर्देशों के बाद जिले में खुफिया तंत्र को सतर्क कर रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर संदिग्धों की जांच शुरू की गई है।

होटलो में तलाशी अभियान चलाया गया है। आम जनमानस से अपरिचित और संदिग्ध गतिविधियों वाले लोगो के बारे मे पुलिस को तत्काल सूचना उपलब्ध कराने की अपील की गई है।

उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश को जोड़ने वाले कानपुर-सागर और झांसी-मिर्जापुर राष्ट्रीय राजमार्गों तथा करीब छह प्रांतीय और ग्रामीण संपर्क मार्गो पर सघन निगरानी के लिए पुलिस बल को तैनात किया गया है।

श्री दुबे ने बताया कि साम्प्रदायिक सद्भाव की दृष्टि से अपनी अलग पहचान रखने वाले बुंदेलखंड के महोबा जिले में अभी तक आतंकियो से संबंधित किसी भी प्रकार की कोई सूचना नहीं है।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश की सुरक्षा एजेंसियों द्वारा राज्य की सुरक्षा एजेंसियों को आतंकियों के साधु सन्यासियों के भेष में मध्य प्रदेश के रास्ते सूबे में घुसपैठ करने की गोपनीय सूचना दी गयी है। जिले के सीमावर्ती सभी थाने और पुलिस चौकियों को सतर्क रहने के निर्देश दिये गये है।

Related Posts: