ishratमुंबई,  मुंबई के 26/11 हमले के गुनहगार आतंकी डेविड कोलमैन हेडली ने अपनी गवाही के तीसरे दिन बड़ा खुलासा किया है .

उसने कहा है कि वर्ष 2004 में गुजरात में पुलिस एनकाउंटर में मारी गई इशरत जहां आत्मघाती हमलावर थी और वह लश्कर के लिए काम करती थी. डेविड हेडली ने मुंबई कोर्ट में गवाही के दौरान कहा कि इशरत फिदायीन आतंकवादी थी और वो लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ी थी.

हेडली ने ये भी बताया है कि इशरत मुजम्मिल नाम के लश्कर ए तैयबा के आतंकी के साथ काम करती थी. पाकिस्तानी-अमेरिकी आतंकवादी डेविड कोलमैन हेडली ने एक अहम दावा करते हुए आज कहा कि गुजरात में वर्ष 2004 में हुई कथित फर्जी मुठभेड़ में मारी गई इशरत जहां वास्तव में लश्कर ए तैयबा आतंकवादी संगठन की एक आत्मघाती हमलावर थी. इस खुलासे से विवादास्पद मुठभेड़ को लेकर नया विवाद पैदा होने की संभावना है.