नयी दिल्ली,

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज कहा कि 2जी मामले में केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत के फैसले से यह साबित हो गया है कि इसे लेकर उनकी सरकार के खिलाफ बड़े पैमाने पर फैलाया गया दुष्प्रचार आधारहीन था।

डॉ. सिंह ने यहाँ संसद परिसर में 2 जी पर अाये फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए संवाददाताओं से कहा “मैं बड़ी-बड़ी बातें नहीं करना चाहता। फैसला अपनी कहानी स्वयं कह रहा है।” डॉ. सिंह ने कहा “अदालत के आदेश का सम्मान किया जाना चाहिये। मुझे प्रसन्नता है कि अदालत ने स्पष्ट रूप से कहा है कि संप्रग के खिलाफ दुष्प्रचार आधारहीन था।’

पटियाला हाउस स्थित विशेष अदालत ने आज सुनाये गये अपने फैसले में मामले के सभी आरोपियों को यह कहते हुये बरी कर दिया कि अभियोजन पक्ष किसी भी आरोप को साबित करने में विफल रहा है।

महालेखा परीक्षक (कैग) ने जब अपनी रिपोर्ट में 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन में सरकारी खजाने को एक लाख 76 हजार करोड़ रुपये के नुकसान की बात कही थी उस समय संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार थी और डॉ. सिंह प्रधानमंत्री थे। स्पेक्ट्रम आवंटन संप्रग के पहले कार्यकाल के दौरान हुआ था।

Related Posts: