kejriwalनई दिल्ली,  दिल्ली के मुख्यमंत्री एंव आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संंयोजक अरविंद केजरीवाल ने केन्द्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर विभाजन करने वाली राजनीति का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी पार्टी 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव की दौड में शामिल नहीं है।

पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में कुछ राजनीतिक प्रस्तावों को स्वीकार करते हुए पार्टी ने कहा कि कि भाजपा का वास्तविक एजेंडा “असहिष्णुता” है और इसका मकसद राजनीतिक लाभ के लिए समाज को विभाजित करना है।
श्री केजरीवाल ने अलीपुर में बैठक को संबाेधित करते हुए कहा,“हम 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव की दौड में शामिल नहीं हैं।” उन्होंने कहा कि पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव में दिल्ली जैसे परिणाम दिखाई दे सकते हैं।श्री केजरीवाल ने भ्रष्टाचार को समाप्त करना पार्टी का मुख्य लक्ष्य बताते हुए कहा कि यह उनकी ही सरकार है जिसने भ्रष्टाचार के आरोप में अपने एक मंत्री को पद से हटा दिया।

श्री केजरीवाल ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लडाई में लोकपाल विधेयक को जरूरी बताते हुए कहा कि दिल्ली विधानसभा के शीतकालीन सत्र में लोकपाल विधेयक पास कर दिया जाएगा।

Related Posts: