आरोपी बोला- बदला लेकर कर दी जिंदगी तबाह

आरोपी को नहीं अपने किए पर कोई पछतावा

नवभारत न्यूज भोपाल,

मासूम कार्तिक की हत्या के बाद पकड़ाए आरोपी विशाल रूपानी को अपने किए पर पछतावा नहीं है. गुरूवार को जब पुलिस ने मासूम की मां व आरोपी का सामना कराया तो पहले तो महिला अवैध संबंधों की बात को नकारती रही, लेकिन जैसे ही आरोपी ने अवैध संबंधों के बारे में जानकारी दी तो महिला टूट गई और उसने आरोपी के साथ अवैध संबंधों की बात को स्वीकारा.

इस दौरान कार्तिक का पिता भी थाने में मौजूद था. करीब दो घंटे तक पुलिस ने महिला और आरोपी का आमना सामना कराया. पहले तो महिला अवैध संबंधों की बात नकार रही थी, लेकिन जैसे ही आरोपी ने कहा कि उन्हें संदिग्ध हालत में मासूम ने देख लिया था, जिसके बाद हंगामा शुरू हुआ और महिला के पति व अन्य परिजनों ने उसके साथ मारपीट की और घर पर आना जाना बंद करवा दिया.

इसके बाद से ही आरोपी ने मासूम को ठिकाने लगाने का प्लान बना लिया था. इसके बाद आरोपी को जेल भेज दिया गया है. पुलिस का कहना है कि अभी मामले की जांच जारी है.

गौरतलब है कि राजेंद्र नगर बैरागढ़ निवासी परसराम महावर के 8 वर्षीय बेटे भरत उर्फ कार्तिक की विशाल रूपानी ने जूते के फीते से गला घोंटकर हत्या कर दी थी. पुलिस ने मासूम की लाश मुबारकपुर टोल नाके से बरामद करने के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि कार्तिक को ट्यूशन पढ़ाने के दौरान मासूम की मां से उसकी नजदीकियां बढ़ गई थी और दोनों के बीच अवैध संबंध स्थापित हो गए थे. गुरूवार को जब आरोपी व महिला का आमना सामना कराया गया तो आरोपी मासूम की मां को देखते ही बोला कि उसने बदला ले लिया है.

इतना ही नहीं मासूम की हत्या की स्वीकारोक्ति के बाद महिला फूट-फूटकर रोने लगी. टीआई सुधीर अरजरिया का कहना है कि क्राइस्ट मैमोरियल स्कूल प्रबंधन ने अभी कारण बताओ नोटिस का जबाव नहीं दिया है. जबाव आने के बाद स्कूल प्रबंधन पर लापरवाही को लेकर गाज गिर सकती है.

अक्टूबर से थे दोनों के बीच अवैध संबंध

पुलिस के मुताबिक जहां महिला अवैध संबंधों की बात छिपाकर केवल मोबाइल फोन पर बातचीत की बात स्वीकार कर रही थी, लेकिन जैसे ही आरोपी ने बताया कि सबसे पहले उसने महिला के साथ अक्टूबर माह में संबंध बनाए और फिर इनके बीच अकसर शारीरिक संबंध बनने लगे. इसके बाद महिला ने भी अक्टूबर माह से अवैध संबंधों की बात स्वीकारी.

बेटे की वजह से हुआ था अवैध संबंधों का खुलासा

टीआई सुधीर अरजरिया ने बताया कि आरोपी ने पूछताछ में स्वीकारा है कि कार्तिक ने उसकी मां व विशाल को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था, जिसके बाद से कार्तिक आरोपी विशाल रूपानी के टारगेट पर था.

आरोपी का यह भी कहना है कि बेटे की वजह से ही महिला के पति व अन्य को अवैध संबंधों की जानकारी लगी थी, जिसके चलते उसने कार्तिक को खत्म करने की ठानी थी. पुलिस के मुताबिक आरोपी ने यह भी बताया है कि उसने महिला से पति व बच्चों को साथ छोड़कर उसके साथ चलने की बात कही थी, लेकिन महिला ने मना कर दिया था.

Related Posts: