bpl3भोपाल,  आम्र्स रिपेयरिंग की आड़ में गैर-लायसेंसी हथियार बनाने वाले एक बाप-बेटे को क्राइम ब्रांच पुलिस ने पकड़ा है. इन आरोपियों से पुलिस ने एक दर्जन से ज्यादा रायफलें बरामद की हैं. आरोपी इमामउददीन और उसका बेटा आसिफ एयरगन की रिपेयरिंग करते थे.

रिपेयरिंग की आड़ में पॉइंट 22 बोर की रायफल में उसे बदलकर अवैध रुप से बेच देते थे. एयर गन में लायसेंस की जरूरत नहीं पड़ती है वहीं पॉइंट 22 बोर रायफल के लिए आम्र्स लायसेंस अनिवार्य होता है.

एएसपी शैलेंद्र सिंह चौहान के अनुसार क्राइम ब्रांच की टीम को सूचना मिली थी कि सेफिया कालेज रोड के पास मकबरे के पीछे एक हथियार रिपेयरिंग की दुकान है. इस दुकान में बाप-बेटे आम्र्स रिपेयरिंग का काम करते हैं. आम्र्स रिपेयरिंग की दुकान अधिकृत है. लेकिन उसकी आड़ में आसिफ एवं उसका पिता इमामउद्दीन एयरगन को मॉडीफाई करने का काम करते हैं. दोनों बाप-बेटे मिलकर एयर पिस्टल या एयरगन को रायफल में तब्दील कर ग्राहकों को रायफल के दाम में बेच देते है.

पाइंट 22 रायफल खरीदने के लिए आस पास के गांव के लोग ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं. आरोपी पहले पुरानी एयरगन को कम दामों में खरीदकर उसे रायफल बनाते हैं. इसके बाद 8-10 हजार रूपये प्रति रायफल के हिसाब से इसे शहर के आस पास के इलाकों में खपाने का काम करते हैं.

Related Posts:

आडवाणी की रथ यात्रा के विरोध में कांग्रेस ने दीं गिरफ्तारियां
साधु संत गौरक्षा उत्थान समिति ने किया पत्रकारों का सम्मान
रतलाम में भूमि लेकर उद्योग नहीं लगाने वालों की जाँच होगी
राजधानी में पारा सामान्य से 2 डिग्री ऊपर चढ़ा
राजधानी में धूमधाम से मनाई गई विश्वकर्मा जयंती
जोश के साथ हुई गणतंत्र दिवस परेड की फुल ड्रेस रिहर्सल