TAXनई दिल्ली,  केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा है कि पिछले साल के दौरान करीब 40 लाख नए करदाताओं को आयकर के दायरे में लाया गया है और इस संख्या में प्रत्येक दिन के साथ इजाफा हो रहा है.

सीबीडीटी के चेयरमैन अतुलेश जिंदल ने कर का आधार बढ़ाने के लिए आयकर विभाग की सराहना करते हुए कहा कि अब इसके दायरे में कर चुकाने में सक्षम और लोगों को लाया जा रहा है. इन नए करदाताओं से सरकार को उल्लेखनीय राजस्व मिला है.

जिंदल ने कहा, हम इस बात को लेकर काफी सतर्क हैं कि हमें अपना कर दायरा बढ़ाना है. हम इस प्रक्रिया में सूचना प्रौद्योगिकी टूल्स का बेहतर तरीके से इस्तेमाल कर रहे हैं. पिछले साल की तुलना में हमने करीब 40 लाख नए आयकरदाता जोड़े हैं.

सीबीडीटी के प्रमुख ने कहा कि नए करदाताओं को विभाग की दो प्रमुख पहल नॉन फ्लायर्स मैनेजमेंट सिस्टम (एनएमएस) और चालू वित्त
वर्ष में एक करोड़ नए आयकरदाता जोडऩे के अभियान के जरिए कर दायरे में लाया गया है.

जिंदल ने कहा कि विभाग के दोनों अभियान अपने लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में काफी सफल रहे हैं.

Related Posts: