बुलंदशहर,  बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने आरोप लगाया है कि केन्द्र में सत्तारूढ नरेन्द्र मोदी की सरकार राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के एजेंडे पर चलकर आरक्षण खत्म करना चाहती है।

सुश्री मायावती ने अाज कहा कि बसपा आरएसएस के एजेंडे को कभी सफल नहीं होने देगी। उन्होने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)समान आचार संहिता, तीन तलाक, लव जेहाद, गोरक्षा जैसे संवेदनशील मुद्दों पर भय, आतंक का वातावरण बनाने में लगी है ।

जीटी रोड स्थित भाटगढ़ी में चुनावी रैली को सम्बोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति चौपट है। लूट, हत्या, डकैती, गुंडागर्दी चरम पर है। हर तरफ असुरक्षा का माहौल है। उन्होने आरोप लगाया कि बसपा के शासन काल में जो विकास योजनायें शुरू हुई थीं, सपा सरकार ने उनको पूरा किया और अब इनका श्रेय लेने की कोशिश में है।

उन्होंने समाजवादी पाटी (सपा) कांग्रेस का गठबंधन राजनीतिक स्वार्थ के चलते सत्ता पर काबिज होने के उद्देश्य से बना है। कांग्रेस 37 वर्ष तक उत्तर प्रदेश में तथा 54 वर्ष तक केंद्र में सत्ता में रही लेकिन दलित और अल्पसंख्यकों के लिए कुछ नहीं किया। अपनी गलत नीतियों के चलते ही कांग्रेस को सत्ता से बेदखल होना पड़ा।

Related Posts: