mayawatiलखनऊ,  बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा है कि आरक्षण पर सफाई देने की बजाय भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेताओं की व्यर्थ बयानबाजी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अंकुश लगाना चाहिये।

सुश्री मायावती ने कहा हेै कि राष्ट्रीय सेवक संघ (आर.एस.एस.) व भाजपा नेताओ की कथनी और करनी में अन्तर है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बार-बार सफ़ाई दे रहे है कि आरक्षण को कोई छीन नही सकता है लेकिन इन लोगों पर विश्वास नही किया जा सकता है।

Related Posts: