भोपाल,  राजधानी भोपाल स्थित आरबीआई मुख्यालय के समक्ष आज बड़ïी संख्या में कांग्रेसजनों ने धरना, प्रदर्शन कर आरबीआई प्रबंधक को ज्ञापन सौंपा तथा गिरफ्तारी दी.

धरना-प्रदर्शन में अ.भा. कांग्रेस कमेटी के महासचिव मुकुल वासनिक और पूर्व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू, अ.भा. कांग्रेस सचिव राकेश कालिया, सज्जन ङ्क्षसह वर्मा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव, विधायकगण सचिन यादव, जीतू पटवारी, आर.के. दोगने, प्रदेश व जिला तथा ब्लॉक कांग्रेस के पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे. धरना-प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुये अ.भा. कांग्रेस कमेटी के महासचिव वासनिक ने कहा कि मुद्रा से संबंधित नीति में आरबीआई की भूमिका अहम होती है.

सरकार मुद्रा को लेकर कोई फैसला नहीं कर सकती. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का फैसला लेकर आर्थिक आपातकाल की स्थिति पैदा की, जिसका खामियाजा देश की गरीब, मध्यमवर्गीय जनता को भुगतना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि मोदी ने उर्जित पटेल को आरबीआई का गवर्नर बनाकर बड़े व्यापारियों और भाजपाईयों के कालेधन को ठिकाने लगाने का कार्य किया है.

उर्जित पटेल को इस्तीफा देना चाहिये. पूर्व केंद्रीय मंत्री पल्लम राजू ने कहा कि 50 दिन के बाद भी जनता को कोई राहत नहीं मिली है. बल्कि आने वाले दिनों में इसका नुकसान और भयाक्रांत रूप हमारे सामने आयेगा. 68 दिनों बाद स्थिति ज्यों की त्यों है. आम जनता का जीना मुहाल हो गया है. अ.भा. कांग्रेस के सचिव राकेश कालिया ने कहा कि मोदी कालाधन तो नहीं निकाल पाये, बल्कि गरीबों की ईमानदारी की कमाई को भी उन्होंने छीन लिया. देश में अफरा-तफरी का माहौल है. अ.भा. कांग्रेस सचिव सज्जन ङ्क्षसह वर्मा ने भी संबोधित किया.

Related Posts: