ashaनीमच,  मध्यप्रदेश के नीमच जिले की कई आशा कार्यकर्ताओं के साथ अज्ञात व्यक्ति द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) के नाम पर ठगी करने का मामला सामने आया है।

जिले के जीरन पुलिस थाना क्षेत्र की 10 आशा कार्यकर्ता लगभग डेढ़ लाख रुपए की ठगी की शिकार हुई हैं। इसके अलावा अज्ञात ठग ने एक आशा कार्यकर्ता के पति और पेशे से मजदूर व्यक्ति को भी अपना निशाना बनाया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार भीलों का खेड़ा की आशा कार्यकर्ता मन्जू बाई भील के पास पिछले दिनों एनआरएचएम के नाम से एक तथाकथित व्यक्ति राकेश पाटीदार पहुँचा। इस व्यक्ति ने आशा कार्यकर्ता को नौकरी दिलाने का लालच दिया और उससे साढ़े सात हज़ार रूपये लेकर एक फाॅर्म भरवाया। इसके बाद उसने मन्जू बाई के माध्यम से क्षेत्र की अन्य नौ आशा कार्यकर्ताओं से नौकरी दिलवाने के नाम पर चार से सात हज़ार रूपये लेकर फाॅर्म भरवाया और क्षेत्र में सर्वे करवाया।

इसी ठग ने चेनपुरा की एक आशा कार्यकर्ता के पति मदनलाल मीणा को एक वैन दिलवाकर उसे अस्पताल में लगवाने के नाम पर उससे लगभग 90 हजार रूपये ले लिए। ठग कल मदनलाल मीणा को लेकर राजस्थान के चित्तौड स्थित भाटिया मोटर्स गया। यहां उसने गाड़ी डिलिवरी की बात कही और शो रूम से ही चम्पत हो गया। इसके बाद से आरोपी के दोनों मोबाइल नम्बर बन्द आ रहे हैं।

ठगी का शिकार बने सभी पीड़ित आज जीरन थाने पहुंचे और विस्तृत रिपोर्ट दर्ज कराई। थाना प्रभारी बीएल भाबर ने मोबाइल नम्बर ट्रेस करवाकर एक पुलिस पार्टी को चित्तौड़ रवाना करने की बात कही है।

Related Posts: