क्राइस्टचर्च,

निचले क्रम के बल्लेबाज़ ईश सोढी के नाबाद 56 रन की बहुमूल्य पारी की बदौलत न्यूजीलैंड ने दूसरे क्रिकेट टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन मंगलवार को मैच ड्रा कराने के साथ 19 साल बाद इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ जीत ली जबकि घरेलू मैदान पर यह उसकी 34 साल बाद मिली जीत है।

न्यूजीलैंड की वर्ष 1999 के बाद इंग्लैंड के खिलाफ यह पहली टेस्ट सीरीज़ जीत है जबकि घरेलू मैदान पर वर्ष 1983-84 के बाद यह उसकी पहली टेस्ट सीरीज़ जीत है।घरेलू टीम ने मेहमान टीम के खिलाफ पहले टेस्ट में पारी और 49 रन से जीत दर्ज की थी और दो टेस्टों की सीरीज़ को 1-0 से अपने नाम किया।

दूसरे मैच में 382 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुये मैच के अंतिम दिन की समाप्ति तक न्यूजीलैंड ने 124.4 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 256 रन बनाये।वह जीत से 126 रन की दूरी पर था कि समय समाप्ति के साथ मैच ड्रा समाप्त हो गया।

मैच में हार टालने के साथ सीरीज़ में जीत सुनिश्चित करने का श्रेय आठवें नंबर के बल्लेबाज़ सोढी को जाता है जिन्होंने एक छोर संभालते हुये 168 गेंदों की पारी में नौ चौके लगाकर नाबाद 56 रन की पारी खेली।

सोढी ने सातवें नंबर के कॉलिन डी ग्रैंडहोमे के साथ सातवें विकेट के लिये 57 रन जोड़े जबकि नील वेगनर(सात) के साथ आठवें विकेट के लिये 37 रन जोड़े और मैदान पर अंत तक टिके रहे।ग्र्रैंडहोमे ने 97 गेंदों में छह चौके लगाकर 45 रन का योगदान दिया।

Related Posts: