spo1इंदौर,  मुसीबल में माही बने खेवनहार। टीम इंडिया की डूबती नैया को आखिर कप्तान महेंद्रसिंह धोनी का ही सहारा मिला। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा वन-डे मैच खेलने उतरी भारतीय टीम एक वक्त गहरी मुसीबत में फंस गई थी। लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी पारी खेलकर टीम इंडिया को मुसीबत से उबार दिया। जवाब में द. अफ्रीका टीम 225 रन बनाकर आल आउट हो गई.

टर्बनेटर ने दिया साथ
एक समय 165 के स्कोर पर 7 विकेट गिरने के बाद टर्बनेटर हरभजन सिंह ने कप्तान धोनी का बखूबी साथ दिया, लेकिन वे भी अपनी पारी को 22 रन से आगे नहीं बढ़ा पाए। इस पारी में भज्जी ने 1 छक्का और 2 चौक्के जड़े। हरभजन को डेल स्टेन ने विकेटकीपर के हाथों कैच आउट कराया। इससे पहले टीम इंडिया को भुवनेश्वर कुमार के रूप में सातवां झटका लगा भुवनेश्वर ने 14 रन बनाए और उन्हें इमरान ताहिर ने बोल्ड किया। इससे पहले छठे विकेट के रूप में अक्षर पटेल ने 13 रन बनाए थे और उन्हें डेल स्टेन ने एलबीडब्ल्यू आउट करके पवेलियन लौटाया।

खाता नहीं खोल पाए रैना
सुरेश रैना खाता भी नहीं खोल पाए, उन्हें मोर्ने मोर्केल ने विकेटकीपर डी-कॉक के हाथों कैच आउट कराया।

अजिंक्य की दमदार पारी
रोहित शर्मा के जल्दी आउट होने के बाद तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे अजिंक्य रहाणे ने 51 रन का योगदान दिया और उन्हें इमरान ताहिर ने बोल्ड आउट कर दिया। रहाणें ने 60 गेंदों पर अपना 12वां अर्धशतक पूरा किया था। यह द. अफ्रीका के खिलाफ उनका तीसरा अर्धशतक था।

Related Posts:

ऐसा क्या हुआ जो करीना को सेट पर ही फाडऩा पड़ा गाउन
डा. खड़से व दुबे को श्री रामगोपाल माहेश्वरी सम्मान
खार को अपनी ही पार्टी से मिली चुनौती
समृद्ध लोकतंत्र के कारण ही मैं रायसीना हिल्स तक पहुंच सका
योगी ने फुटबाल एवं अन्य खेलों को बढावा देने के लिए अधिकारियों को दिए निर्देश
सभी राज्यों में होगी पद्मावत रिलीज : सुप्रीम कोर्ट