Arunमुंबई.  इस साल इंद्रदेव के मेहरबान रहने की उम्मीद जताते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रविवार को कहा कि बेहतर मानसून से दालों सहित खाद्य मुद्रास्फीति पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी।

जेटली ने यह भी कहा कि कर राजस्व बढऩे एवं वृहद आर्थिक बुनियादी स्थिति सुधरने से अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी और 8-10 प्रतिशत की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर पहुंच के दायरे से बाहर नहीं है। ऐसा लगता है कि इस साल इंद्रदेव हमारे ऊपर मेहरबान रह सकते हैं।

 

Related Posts:

भ्रष्टाचार पर और शिकंजे की तैयारी: सामी
जा सकती है वसुंधरा की कुर्सी
अमेरिका ने दोहराया सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता का समर्थन
बेरोजगार इंजीनियरों को मिलेगा सड़क मरम्मत का ठेका : नितिन
जेएनयू के कन्हैया और उमर खालिद को नवनिर्माण सेना की धमकी
विपक्ष बोलने नहीं दे रहा इसीलिए लोकसभा के बजाय जनसभा का इस्तेमाल : मोदी