बीडीए में व्यापक फेरबदल

नवभारत न्यूज भोपाल,

भोपाल विकास प्राधिकरण में हो रही अनियमितताओं को दूर करने के लिये कुछ ऐेसे निर्णय लिये गये हैं, जो हास्यास्पद बन गये. एक इलेक्ट्रीशियन को जहां राजस्व विभाग का प्रभार सौंप दिया गया, तो एक अन्य कार्यभारित लिपिक से उपयंत्री का काम कराया जा रहा है.

बीडीए में पिछले दिनों व्यापक फेरबदल हुआ. यहां राजस्व विभाग में पदस्थ बाबू की शिकायत मिली तो प्रबंधन ने उसे स्थानांतरित कर दिया. अमले की कमी पूरी करने के लिये इलेक्ट्रीशियन मंचित राव को राजस्व में पदस्थ कर दिया. दरअसल यहां रजिस्ट्री में गड़बड़ी की शिकायत मिल रही थी.

इसकी वजह यह थी कि एक बाबू ने अलकनंदा कॉम्पलेक्स में खुद की दुकान खोल ली और बीडीए के हितग्राहियों को रजिस्ट्री के लिये वहां पहुंचने के लिये मजबूर किया जाने लगा. एक अन्य लिपिक ने कार्यालय के समीप ही अपनी दुकान खोल ली. प्रबंधन ने उसका भी स्थानांतरण कर दिया.

अब इलेक्ट्रीशियन को समझ नहीं आ रहा क्या करे. नस्तियों के अंबार लगे हुये हैं, इसके बावजूद उससे काम लिया जा रहा है.