श्रीहरिकोटा,  भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल करते हुए आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से आज ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान पीएसएलवी-सी37 के जरिये रिकाॅर्ड 104 उपग्रहों का प्रक्षेपण किया। अब तक किसी देश ने 50 उपग्रह भी एक साथ नहीं छोड़े हैं। रूस ने एक साथ सर्वाधिक 33 उपग्रह छोड़े हैं।

इन 104 उपग्रहों का कुल वजन 1378 किलोग्राम है और इनमें 96 केवल अमेरिका के उपग्रह हैं। प्रक्षेपण यहाँ स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के पहले प्रक्षेपण पटल से सुबह 9.28 बजे किया गया। मिशन में मुख्य उपग्रह 714 किलोग्राम वजन वाला कार्टोसैट-2 सीरीज उपग्रह है जो इसी सीरीज के पहले प्रक्षेपित अन्य उपग्रहों के समान है।

इसके अलावा इसरो के दो तथा 101 विदेशी अति सूक्ष्म (नैनो) उपग्रहों का भी प्रक्षेपण किया गया जिनका कुल वजन 664 किलोग्राम है। पीएसएलवी की यह 39 वीं उड़ान थी और इनमें से केवल एक ही उड़ान असफल रही है।

Related Posts: