istanbulइस्तांबुल,   तुर्की के इस्तांबुल के मुख्य अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आत्मघाती हमले में 41 व्यक्तियों की मौत हो गयी है और 239 लोग घायल हो गये हैं। देश में एक दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गयी है। इस्तांबुल के मेयर कार्यालय ने एक आज एक वक्तव्य जारी करके कल रात हुए इस हमले को देश में इस वर्ष का सबसे बड़ा आतंकवादी हमला बताया । इस हमले के लिए इस्लामिक स्टेट को जिम्मेदार बताया गया है।

मारे जाने वालोें में दस को विदेशी नागरिक और तीन को दोहरी नागरिकता वाला बताया गया है। गवर्नर कार्यालय के अनुसार घायलों में से 109 को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है। तुर्की के एक अधिकारी के अनुसार हमलावरों में से एक ने हवाई अड्डे के प्रस्थान हाॅल में स्वचालित रायफल से गोलियां चलानी शुरू कर दी तथा तीन अन्य ने हवाई अड्डे के आगमन हाॅल के पास आकर स्वयं को विस्फोट करके उड़ा लिया।

अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा जांच से पहले हमलावरों को रोकने की कोशिश की गयी लेकिन उन्होंने विस्फोट करके अपने आपको उड़ा लिया। तुर्की के राष्ट्रपति तईप एर्दोगन ने हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है और कहा है कि हमले से पता चलता है कि आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं है और धार्मिक मूल्यों में उनकी कोई आस्था नहीं है।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने भी हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने आतंकवाद के विरूद्ध अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर लड़ाई को तेज और करने की सलाह दी है।

Related Posts: