Mohammad Javad Zarifदुबई 21 जुलाई. ईरान के विदेश मंत्री मुहम्मद जाबद जरीफ ने आज कंजरवेटिव सदस्यों के बाहुल्य वाली संसद में कट्टरपंथी सदस्यों की आलोचनाओं का जवाब देते समय विश्व के प्रमुख देशों के साथ अपने देश के परमाणु समझौते का समर्थन किया और कहा कि समझौते में उनके देश की अगर सभी नहीं तो अधिकांश मांगें स्वीकार कर ली गयीं।

उन्होंने कहा कि हम नहीं कहते कि समझौता पूरी तरह ईरान के पक्ष में है। किसी भी समझौते के लिए लचीला रूख अपनाना पड़ता है और कुछ ले देकर ही इसे पूरा किया जाता है। उन्होंने कहा क हमने सर्वोच्च नेता अली खमेनी से भी कह दिया था कि हमने अपनी सीमा रेखा को बचाये रखने का हर प्रयास किया। इस समझौते के चलते इस देश के विरूद्ध लगे प्रतिबंध उठा लिए जायंगे जो हमारे लिए अधिक महत्वपूर्ण है।

Related Posts:

जापान के कुुमामोटोेेे में तेज भूकंंप,19 की मौत
विकास तेज करने के लिए कई कदम उठा रही है सरकार : जेटली
मसूद अज़हर पर सुषमा ने की चीनी विदेश मंत्री से दो टूक बात
प्रणव की गुयाना और अर्जेन्टीना को लोगों को बधाई
जी-20 सम्मेलन में ब्रिटेन की प्रधानमंत्री मे से मिलेंगे ओबामा
चीन में चक्रवाती तूफान "मेरान्ती" से जनजीवन प्रभावित