shivrajरीवा,  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री के रूप में मोदी के अवतरण को एक ईश्वरीय योजना निरूपित किया. उन्होंने कहा कि मोदी ने उस भविष्यवाणी को सच किया है कि 21वीं सदी भारत की होगी.

यहाँ भाजपा की दो दिवसीय प्रदेश कार्य समिति बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए चौहान ने प्रधानमंत्री की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि 1892 में स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में अपने ओजपूर्ण भाषण से दुनिया को चमत्कृत किया था, उसकी पुनरावृत्ति आठ जून को दूसरे नरेन्द्र ने की है. उन्होंने इस भविष्यवाणी को सच होता हुआ बताया कि 19वीं शताब्दी अंग्रेजों की, 20वीं शताब्दी अमेरिका की और 21वीं शताब्दी भारत की होगी. चौहान ने कहा कि नरेन्द्र मोदी का प्रधानमंत्री के रूप में अवतरण एक ईश्वरीय योजना है.

मुख्यमंत्री ने श्री मोदी के कांग्रेस मुक्त भारत की कल्पना की चर्चा करते हुए कहा कि उसका अर्थ है कि देश को दलाली, घोटाले, भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद और वंशवाद से मुक्ति दिलाना है. साम्प्रदायिक भावना से पीछा छुड़ाना है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने ‘लोक जोड़ो’ का अनूठा मिशन दिया है. इसके माध्यम से लोगों से संवाद और विचार-विमर्श कर उनके बीच परस्पर विश्वास जगाना है. चौहान ने इसी में जोड़ते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से भी आग्रह किया कि कुछ जिलों के पदाधिकारियों के मन में गांठ पड़ी हैं, उसे दूर करें. इसके कारण संगठन को क्षति पहुंच सकती है.

Related Posts: