मुंबई,

साल के पहले दिन बड़ी गिरावट के बाद आज घरेलू शेयर बाजार दिन भर के उतार-चढ़ाव से होता हुआ अंतत: सपाट बंद हुआ।बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.49 अंक फिसलकर 33,812.26 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.06 प्रतिशत यानी 6.65 अंक टूटकर 10,442.20 अंक पर बंद हुआ।

बाजार में कुल मिलाकर धारणा नकारात्मक रही।इस कारण बीएसई में जिन 2,954 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ उनमें 1,689 के शेयर लाल और 1,152 के हरे निशान में बंद हुये।अन्य 113 कंपनियों के शेयर अपरिवर्तित रहे।मझौली और छोटी कंपनियों में भी बिकवाली का जोर रहा।बीएसई का स्मॉलकैप 0.63 प्रतिशत लुढ़ककर 19,158.24 अंक पर और मिडकैप 0.62 प्रतिशत टूटकर 17,725.47 अंक पर आ गया।

चौतरफा दबाव के बीच एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, टाटा मोटर्स और ओएनजीसी जैसी दिग्गज कंपनियों ने सेंसेक्स को सँभालने का काम किया।टाटा मोटर्स के शेयर तीन फीसदी से अधिक चढ़े।दूरसंचार समूह पर दबाव के कारण भारती एयरटेल के शेयर सवा दो प्रतिशत टूट गये।

सेंसेक्स की शुरुआत बेहद सकारात्मक हुई।यह 100.80 अंक की बढ़त में 33,913.55 अंक पर खुला और खुलते ही 33,964.14 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया।लेकिन, बिकवाली के दबाव में पहले आधे घंटे में ही यह लाल निशान में भी उतर गया।कभी हरे तो कभी लाल निशान से होता हुआ कारोबार की समाप्ति से पहले 33,703.37 अंक के दिवस के निचले स्तर को छूता हुआ सेंसेक्स गत दिवस के मुकाबले 0.49 अंक नीचे 33,812.26 अंक पर बंद हुआ।

Related Posts: