mp1भोपाल, मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिला कलेक्टर संकेत भोंडवे को नि:शक्तजन के पुनर्वास एवं उत्थान के क्षेत्र में जिले में किये गये उत्कृष्ट कार्यों के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी राष्ट्रीय पुरस्कार देंगे. यह पुरस्कार उन्हें 3 दिसम्बर को नई दिल्ली में विज्ञान भवन में मिलेगा.

होशंगाबाद जिले में नि:शक्तता के क्षेत्र में विभिन्न जन-कल्याणकारी कार्यकम और गतिविधियाँ संचालित की गई, जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आये हैं. भारत सरकार द्वारा उत्कृष्ट जिला श्रेणी में होशंगाबाद जिले का चयन किया गया है.

विकासखंड स्तर पर किए परिचय सम्मेलन
जिले में नि:शक्तजन को स्वावलंबी बनाने एवं उनका परिवार बसाने के उद्देश्य से नि:शक्त युवक-युवतियों को चिन्हांकित कर विकासखंड स्तर पर परिचय सम्मेलन किये गये. परिचय सम्मेलन में 51 जोड़ों के तय हुए रिश्तों का जिला स्तर पर सामूहिक सम्मेलन में विवाह करवाया गया. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी सम्मेलन में पहुँचकर विवाहित जोड़ों को अशीर्वाद दिया. सम्मेलन में विभिन्न सामाजिक संस्थाओं और अटल बाल पालकों द्वारा उपहार दिये गये. नि:शक्त युवक-युवतियों के धर्म माता-पिता बनकर उनका कन्यादान किया और आज भी जोड़ों को अतिरिक्त रूप से अपनी ओर से वित्तीय मदद एवं सामाजिक दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं.

सम्मेलन में मुस्लिम जोड़ों का निकाह भी करवाया गया. शासन की ओर से 50-50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि और कार्यक्रम स्थल पर ही उनके आधार कार्ड, जन-धन योजना में बैंक खाता, रूपे कार्ड सहित अन्य शासकीय योजना में पात्रतानुसार स्वीकृति आदेश दिये गये. जिले में अब तक 101 नि:शक्त युवक-युवतियों के विवाह करवाये गये हैं.

रोजगार मेलों से दिलाया काम
रोजगार मेलों का आयोजन कर उनकी योग्यतानुसार अशासकीय संस्थाओं में रोजगार उपलब्ध करवाया गया. शासकीय कार्यालयों में नि:शक्तजन की भर्ती के लिये विशेष अभियान चलाकर रिक्त पदों की पूर्ति की गई. साथ ही उनके स्व-रोजगार के लिये शासन की विभिन्न योजना से लाभान्वित किया गया. नि:शक्तजन के कौशल विकास के लिये विभिन्न व्यवसाय का प्रशिक्षण देकर उन्हें बैंक के माध्यम से ऋण उपलब्ध करवाकर रोजगार दिलवाया गया.
राष्ट्रीय न्यास की योजना लीगल गार्जियनशिप में जिले में स्थापित लोकल लेबल कमेटी द्वारा 150 हितग्राहियों को प्रमाण-पत्र दिये गये हैं.

Related Posts: