depikaअभिनेत्री दीपिका पादुकोण का कहना है कि अपनी असफल फिल्मों के बाद लोगों से मिली उपेक्षा को उन्होंने एक चुनौती की तरह लिया और अपनी आलोचनाओं के पहलुओं पर काम किया.

दीपिका ने ‘वूमेन ऑफ वर्थ 2015’ कार्यक्रम में कहा, ”मैं बहुत खुशनसीब हूं कि मैं फिल्मोद्योग में हूं. यह एक ऐसा व्यवसाय है, जिसे मैं हमेशा से करना चाहती थी और जिसे लेकर बहुत जुनूनी थी. यही वजह है कि जब मुझे नकारना जाने लगा तो मैंने इसे एक चुनौती एवं स्वस्थ आलोचना के रूप में लिया और इस दिशा में काम किया.”

दीपिका के लिए ‘ओम शांति ओम’ और ‘लव आज कल’ की सफलता के बाद लगातार कई फिल्मों की असफलता ‘उपेक्षा’ का दौर था. उन्होंने कहा, ”कड़ी मेहनत कई चीजों की कुंजी होती है, लेकिन आपका अपने काम के प्रति जुनूनी होना भी जरूरी है.” दीपिका की आगामी फिल्म ‘तमाशाÓ और ‘बाजीराव मस्तानीÓ होगी.

Related Posts: