anirbanनई दिल्ली,  दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को देशद्रोह के एक मामले में गिरफ्तार जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के दो छात्रों उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य से हिरासत में एक और दिन पूछताछ की अनुमति दी.

पुलिस ने अदालत से कहा कि बड़ी साजिश का पता लगाने के लिए इस मामले में आगे की जांच के लिए इन दोनों की जरूरत है. इसके बाद अदालत ने उनकी पुलिस हिरासत बढ़ा दी. इन दोनों पर आरोप है कि उन्होंने नौ फरवरी को जेएनयू में एक विवादित कार्यक्रम आयोजित किया था जिसमें कहा जाता है कि भारत विरोधी नारे लगाए गए थे.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, दिल्ली पुलिस की आतंक निरोधक इकाई विशेष सेल को दोनों आरोपियों से पूछताछ के लिए थोड़े समय की जरूरत है. यह मामला इसी विशेष सेल को सौंपा गया है.

पुलिस का दावा है कि इस मामले में गिरफ्तार खालिद, अनिर्बान और जेएनयू छात्रसंघ प्रमुख कन्हैया कुमार की संयुक्त पूछताछ के बाद जेएनयू के कार्यक्रम में मौजूद करीब 22 लोगों की पहचान हुई है जिसमें कुछ बाहरी थे. खालिद और अनिर्बान 24 फरवरी को आत्मसमर्पण और फिर गिरफ्तारी के बाद से पुलिस हिरासत में हैं.

Related Posts:

लोकपाल के मसौदे पर कांग्रेस में फूट
अग्नि- IV मिसाइल (परमाणु क्षमता संपन्न) का परीक्षण
दस लाख रुपए से अधिक आय वालों को रसोई गैस सब्सिडी नहीं
उना कांड के कारण ही गंवानी पडी आनंदीबेन को कुर्सी : मायावती
एड्स पीड़ितों के साथ भेदभाव रोकने के कानून को मंजूरी
31 दिसंबर तक डेबिट कार्ड ट्रांजेक्शन पर सर्विस चार्ज समाप्त