ebankingढाका,  सिर्फ एक स्पेलिंग मिस्टेक के चलते करीब 67 अरब रुपए की चोरी टल गई. बैंक अधिकारियों ने जानकारी दी कि यह ऑनलाइन ट्रांसफर पिछले महीने बांग्लादेश के सेंट्रक बैंक और न्यूयॉर्क फेड के बीच किया जा रहा था.

हालांकि हैकर्स करीब साढ़े 5 अरब रुपए चुराने में कामयाब रहे. हैकर्स द्वारा अंजाम दी गई यह चोरी बैंक चोरी के इतिहास की सबसे बड़ी घटना है.
बांग्लादेश सेंट्रल बैंक के अधिकारियों ने बताया कि हैकर्स ने बैंक के सिस्टम को हैक कर लिया और पेमेंट ट्रांसफर से जुड़े जरूरी कोडवर्ड्स चुरा लिए.

अधिकारियों के मुताबिक, हैकर्स ने फेडरल रिजर्व बैंक को करीब तीन दर्जन बार इसको लेकर रिक्वेस्ट की कि बांग्लादेश के बैंक खातों से फिलीपिन्स और श्रीलंका में बैठे लोगों के खातों में रकम ट्रांसफर कर दी जाए.फेड रिज़र्व ने चार ऐसे अनुरोध जिनके तहत फिलिपीन्स में 5 अरब रुपए भेजे जाने थे, पूरे कर दिए. लेकिन पांचवां अनुरोध, जिसके तहत श्रीलंका में एक एनजीओ को करीब 1 अरब 35 करोड़ रुपए भेजे जाने थे, रोक दिया गया. असल में हैकर्स ने एनजीओ के नाम की स्पेलिंग गलत लिख दी थी.