BPL1भोपाल,  शाहपुरा इलाके में केनरा बैंक के एटीएम से पौने सात लाख रुपयों की चोरी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.
आरोपियों में पैसा जमा करने वाली कंपनी के दो और एक पूर्व कर्मचारी शामिल है. पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी की रकम में से 2 लाख 14 हजार रुपए बरामद कर लिए है बाकी रकम आरोपियों ने दूसरे एटीएम में डाल दी थी.

फिलहाल पुलिस आरोपियों को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ कर रही है. एसपी अंशुमन सिंह ने बताया कि गत 10 अप्रैल को शाहपुरा स्थित केनरा बैंक के एटीएम से 6 लाख 80 हजार रुपए चोरी करने वाले विक्रम द्विवेदी निवासी मूलत: रीवा, निलेश त्रिपाठी निवासी मूलत: रीवा और बिलवन मारन निवासी रातीबड़ को गिरफ्तार कर लिया है.

शातिराना तरीके से की थी वारदात
तीनों आरोपी गत 10 अप्रैल को बसंत कुंज स्थित एटीएम पहुंचे. सबसे पहले हेलमेट पहनकर निलेश एटीएम में दाखिल हुआ. उसने एटीएम में प्रवेश करते ही सीसीटीवी कैमरों पर कागज चिपका दिया उसके बाद उसके इशारे पर बिलवन भी एटीएम में दाखिल हो गया. इस दौरान विक्रम एटीएम के बाहर खड़ा होकर निगरानी करता रहा. इधर निलेश और बिलवन ने एटीएम मशीन में अपने-अपने पासवर्ड डाला, जिससे मशीन के पीछे स्थित कैश ट्रे खुल गई.

आरोपियों ने एटीएम से 6 लाख 80 हजार निकालकर पैनल बंद किया और वहां से फरार हो गए. एसपी के अनुसार इस चोरी का खुलासा गत 13 अप्रैल को हुआ था. जब बैंक में पैसा जमा करने वाली कैश इन ट्रांसिट कंपनी, राइटर सेफ गार्ड के एलआईसी शेखर कल्याणे ने एटीएम का बेलेंस चैक किया. उसमें रकम कम निकली. शेखर कल्याणे की शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर पड़ताल शुरु कर दी थी. फरियादी शेखर ने पुलिस को कंपनी के दो कर्मचारियों निलेश और बिलवन पर संदेह जताया था.

शेखर ने पुलिस को बताया कि एटीएम के पासवर्ड इन दोनों को मालूम थे. पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो दोनों आरोपी कुछ देर गुमराह करने के बाद टूट गए. आरोपियों ने अपने तीसरे साथी के नाम का भी खुलासा कर दिया. पुलिस ने चोरी की योजना बनाने वाले तीसरे आरोपी विक्रम को भी हिरासत में ले लिया. पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी की रकम में से 2 लाख 14 हजार रुपए बरामद कर लिए.

पासवर्ड डालकर निकाली थी रकम

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह पिछले दो साल से इसी तरह कई एटीएम से पैसा निकालते आ रहै है और ऑडिट होने से पहले एटीएम में पैसा वापस जमा कर देते थे. केनरा बैंक एटीएम से भी चोरी की गई रकम में से बची हुई रकम भी आरोपियों ने जहांगीराबाद स्थित आईसीआईसीआई बैंक के एटीएम में पासवर्ड का इस्तेमाल कर रख दी है. फिलहाल पुलिस आरोपियों से अन्य बैंकों के एटीएम में किए गए गड़बड़झाले के बारे में पूछताछ कर रही है. पुलिस को आरोपियों से कई और बड़े खुलासे होने का भी अंदेशा है.

Related Posts: