देवनगर के पास हुआ हादसा,
5 अन्य भी हुए घायल

नवभारत न्यूज रायसेन,

जिले की सिलवानी तहसील के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र से प्रसूता और उसके परिजनों को लेकर आ रही 108 एंबुलेंस रविवार की सुबह लगभग 4 बजे सागर रोड पर देवनगर स्थित विमल ढाबा के पास सड़क किनारे पुलिया से अनियंत्रित होकर टकरा गई।

इस हादसे में एंबुलेंस में सवार प्रसूता और उसके पेट में पल रहे बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं अन्य पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिनमें एंबुलेंस चालक की हालत नाजुक बताई जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सिलवानी तहसील के ग्राम जमुनिया निवासी भगवतसिंह आदिवासी की पत्नी 20 वर्षीय पप्पी बाई को डिलेवरी के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सिलवानी में भर्ती किया गया था।

प्रसूता की रात को हालत बिगडऩे पर उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया था। प्रसूता को लेकर उसके परिजन 108 एंबुलेंस से रायसेन जिला अस्पताल लेकर आ रहे थे।

देवनगर के नजदीक एंबुलेस के चालक को नींद की झपकी आ गई, जिससे तेज रफ्तार एंबुलेंस अपनी साइड छोड़कर सड़क के दूसरे तरफ पुलिया से जा टकराई और नीचे उतर गई। टक्कर इतनी जबरर्दस्त थी कि एंबुलेंस का अगला हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया।

सड़क से गुजर रहे राहगीरों ने घायलों को एंबुलेंस से बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। जानकारी लगते ही देवनगर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को जिला अस्पताल भेजा , लेकिन इससे पहले ही प्रसूता पप्पी बाई और उसके पेट में पल रहे बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई थी।

इस हादसे में प्रसूता का पति भगवतसिंह आदिवासी, 55 वर्षीय सास रेवती बाई, देवर धर्मेन्द्र और एंबुलेंस चालक रामकुमार एवं उसका एक अन्य साथी घायल हुए हैं,

जिनमें एंबुलेंस के चालक रामकुमार उसका साथी और प्रसूता की सास रेवती बाई की हालत गंभीर होने पर उन्हें भोपाल रेफर कर दिया गया। चालक की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है।

Related Posts: