bpl1भोपाल,   30 अप्रैल को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं केंद्रय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल द्वारा मुख्यमंत्री निवास परिसर में प्रात: 11 बजे ऊर्जा दक्ष एलईडी बल्ब उजाला योजना का विधिवत शुभारंभ किया जावेगा. कार्यक्रम की अध्यक्षता विभागीय मंत्री राजेंद्र शुक्ल द्वारा की जावेगी.

निगम अध्यक्ष विजेंद्र सिंह सिसौदिया ने बताया कि योजना के अंतर्गत प्रदेश में 3 करोड़ एलईडी बल्ब 9 वॉट 100 ल्यूमेन की उत्तम क्वॉलिटी के प्रदेश की आम जनता/विद्युत उपभोक्ताओं को बहुत ही किफायती दामों (85/- प्रति बल्ब) पर वितरण करने का लक्ष्य रखा गया है. इसकी 3 वर्ष की रिप्लेसमेंट वारंटी रहेगी. यह बल्ब न्यूनतम 30,000 घंटे कार्य करने की क्षमता रखता है.

यह बल्ब आम साधारण 100 वॉट के साधारण बल्ब के समान प्रकाश देगा. इस प्रकार इस बल्ब के उपयोग से 91 प्रतिशत बिजली की बचत होगी. इस लक्ष्य की प्राप्ति करने में भारत सरकार के इनर्जी एफिसिएंट सर्विसेस लि. के सहयोग से प्रदेश हेतु निर्धारित किए गए वितरक एजेंट के माध्यम से पूरे प्रदेश में एक साथ वितरित किए जावेंगे तथा इसमें विशेषकर निगम के माध्यम से निर्धारित निजी अक्षय ऊर्जा शॉप, जिले के विभिन्न हाट बाजारों, पोस्ट ऑफिस, मप्र विद्युत वितरण कंपनी के विद्युत देयक कलेक्शन सेंटर्स आदि के माध्यम से वितरण किया जावेगा. कोई भी उपभोक्ता अपना पहचान पत्र/ विद्युत देयक दिखाकर आवश्यकता अनुसार एलईडी बल्ब उल्लेखित स्थलों से प्राप्त कर सकता है.

एक एलईडी बल्ब के उपयोग से 25 से 30 यूनिट प्रति वर्ष बिजली की बचत हो सकती है. जिससे लगभग 150 रुपए से 180 रुपए तक वार्षिक रूप से बचत होगी. इसी प्रकार प्रदेश में 3 करोड़ बल्ब के वितरण उपरांत लगभग 75 मेगावाट से 90 मेगावाट बिजली की वार्षिक बचत होगी. जिससे 450 से 540 करोड़ रुपए की वार्षिक बचत होगी, इससे लगभग 31.75 लाख टन कार्बनडाई आक्साईड के उत्सर्जन में कमी आएगी. इस योजना का विगत 2 माह से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है तथा प्रदेश स्तर पर और अधिक व्यापक प्रचार-प्रसार किया जावेगा.

Related Posts: