ढाका,  भारतीय पुरूष हॉकी टीम बुधवार से शुरू होने जा रहे एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट में यहां मौलाना बशानी नेशनल स्टेडियम में जापान के खिलाफ विजयी शुरूआत करने के इरादे से उतरेगी।

भारतीय टीम को यहां पहले ही जीत का दावेदार माना जा रहा है और सोमवार को ओमान के खिलाफ अभ्यास मैच में भी स्थानीय लोगों ने टीम का भरपूर समर्थन किया था।

लेकिन पूल ए में उसके साथ बंगलादेश और पाकिस्तान जैसी मजबूत टीमें हैं और ग्रुप चरण के मुकाबलों में जरूरी है कि वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करे ताकि ग्रुप में शीर्ष पर रहे।

टीम इंडिया के कप्तान मनप्रीत सिंह ने जापान के खिलाफ मैच को लेकर भरोसा जताते हुये कहा“ पहले मैच में हमेशा कुछ घबराहट होती है और हमें उससे उबरने के लिये अच्छा खेलना होगा।

हालांकि हम चुनौती के लिये तैयार हैं तथा मुख्य पिच पर हमने दो अभ्यास सत्र किये हैं तथा ओमान के साथ एक मैच भी खेला है।

” भारत ने इस वर्ष के शुरूआत में जापान के खिलाफ सुल्तान अजलान शाह कप में भी खेला था और 4-3 से जीत दर्ज की थी। हालांकि इस मैच में भारतीय पुरूषों की जीत का अंतर बहुत बड़ा नहीं था।

वहीं जापानी टीम काे आक्रामक खेलने के लिये जाना जाता है तथा इसी अजलान कप में उसने दूसरी रैंकिंग की टीम आस्ट्रेलिया को 3-2 से चौंकाया था। मनप्रीत ने माना कि जापान के खिलाफ खेलना चुनौतीपूर्ण होगा। उन्होंने कहा“ हमने देखा है कि जापान कितनी तेजी के साथ खेलती है और एशिया में सबसे तेज़ और खेल में बढ़िया सुधार करने वाली टीम है। हम जापान को कभी भी हल्के में नहीं ले सकते हैं।

Related Posts:

अंजली ने डबल्स में स्वर्ण और सिंगल्स में जीता रजत पदक
इंडोनेशिया मास्टर्स बैडमिंटन टूर्नामेंट : सिंधू, श्रीकांत अंतिम आठ में
युवी, केपी का IPL नीलामी के लिए सर्वाधिक आधार मूल्य
थाईलैंड रवाना हुईं खिलाड़ी बेटियां
नेमार ट्रांसफर मामले में 55 लाख यूरो का जुर्माना देगा बार्सिलोना
अंकुषिता बनीं स्वर्ण जीतने वाली असम की पहली महिला