नयी दिल्ली,
देश के सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपने ग्राहकों को नववर्ष का उपहार देते हुए 01 अप्रैल 2016 से पहले के ऋणों पर ब्याज दरों में 0.30 प्रतिशत की कटौती कर दी है।बैंक ने आज बताया कि उसने आधार दर में 0.30 प्रतिशत की कटौती की है।
नयी दर आज से प्रभावी हो गयी है।अब आधार दर 8.95 प्रतिशत से घटाकर 8.65 प्रतिशत रह गयी है।यह वह न्यूनतम दर है जिस पर बैंक 01 अप्रैल 2016 से पहले ऋण देता था।आधार दर बदलने से इसका प्रभाव सभी तरह के ऋणों पर पड़ेगा क्योंकि यह ऋण दर तय करने का एक मानक भी था।इसका सीधा लाभ आवास और शिक्षा ऋण लेने वाले छात्रों को होगा।

बैंक ने सीमांत लागत आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) में कोई बदलाव नहीं किया है।उल्लेखनीय है कि 01 अप्रैल 2016 से रिजर्व बैंक ने आधार दर की जगह ऋण के लिए एमसीएलआर प्रणाली लागू कर दी है।बैंक ने प्रधान मानक ब्याज दर (बीपीएलआर) को भी 13.70 प्रतिशत से घटाकर 13.40 प्रतिशत कर दिया है।

Related Posts: