mp3बैतूल, केमिस्टों का इंटरनेट फार्मेसी के विरोध और ऑनलाईन ब्रिकी के खिलाफ देशव्यापी दवाई दुकाने बंद रहने का जिले में खासा असर रहा है। एक भी मेडिकल नहीं खुलने से मरीज जरूरत की दवाओं के लिए तरस गए। दोपहर में जिला औषधि विक्रेता संघ के बैनर तले दवा व्यवसायियों ने प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन देकर ऑनलाईन दवा बिक्री का विरोध जताया और इंटरनेट फार्मेसी के प्रभाव को तत्काल रोकने की मांग की।

पूर्व से प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी आंदोलन की वजह से बुधवार को जिले का दवा व्यवसाय पूरी तरह ठप्प रहा। सुबह से लेकर दोपहर तक एक भी दवाई की दुकान नहीं खुली थी केवल जिला चिकित्सालय के अलावा मरीजों को कहीं भी दवा नहीं मिल पा रही थी। अभी जिले में मलेरिया, डेंंगू सहित अन्य बीमारियों का कहर लगातार जारी है। कई निजी चिकित्सों के पास इलाज कराने के बाद डॉक्टरों के द्वारा दवा मेडिकल से मंगवाई जा रही थी लेकिन मेडिकल बंद होने से जरूरतमंद दवा भी नहीं मिल रही थी।

मेडिकलों के सामने दुकान खोलने की रास्ता देखते बैठे नजर आए। दवा नहीं मिलने के चलते कई मरीजों को उपचार नहंी मिल सका। जिला औषधि विक्रेता संघ के जिलाध्यक्ष छबीलदास मेहता, सचिव रामप्रकाश गुगनानी ने बताया कि ड्रग्स एवं ड्रग एवं कास्मेटिक एक्ट 1940 एवं रूल्स 1945 में इंटरनेट फार्मेसी का कोई प्रावधान नहीं है। इसका प्रार्दुभाव अवैध एवं गैर कानूनी है। इंटरनेट फार्मेसी से बिना ब्रांड एवं निम्र स्तर की दवाओं की बिक्री का रास्ता आसान हो जाएगा। इंटरनेट फार्मेसी से एडवर्स ड्रग रिएक् शन का खतरा बढ़ जाएगा। दवाओं क अंधाधूंध इस्तेमाल होने से मरीजों के स्वास्थ्य पर इसका विपरित असर पड़ेगा। दवाए सहजता से उपलब्ध होगी युवाओं में नशे की प्रवृत्ति बढऩे लगेगी। देश क े850 लाख केमिस्टों उनके 40 लाख परिजनों, 80 लाख कर्मचारियों एवं उनके करोड़ों परिजनो को आर्थिक नुकसान होगा। ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली 80 प्रतिशत जनता को दवाओं की उपलब्धता का खतरा पैदा हो जाएगा। दवा विक्रेताओं की मांग है कि इंटनेट फार्मेसी के प्रार्दुभाव को रोकने एवं कानून को नहीं बनाने की मांग की गई है।

इस दौरान संघ के जिला औषधी विक्रेता संघ के अध्यक्ष छबीलदास मेहता, सचिव रामप्रकाश गुगनानी, सुधाकर वागद्रे, मंजित ङ्क्षसह साहनी, सुनील कुमार सलूजा, ओमप्रकाश सलूजा, मनीष खण्डेलवाल, चंदू पात्रीकर, दीपक मेहता, राजेश मेहता, अरूण महस्की, दीपू सलूजा, नीरज सोनी, सचिन वागद्रे, रितेश जैसवाल, अंकित वर्मा सहित संघ के सदस्य मौजूद थे।

Related Posts: